Ishq ke assi ghat

सुनो ना, इश्‍क गर्मियों की ठंडी बयार है तो कभी सीना चाक करता चक्रवात भी। क्‍या कहा, झूठ है यह? चलो घुमा लाएं ‘इश्‍क के अस्‍सी घाट’। यह जो कहीं दीप जले कहीं दिन वाला कॉन्‍सेप्‍ट है न इसको कभी एक ही स्‍क्रीन पर फील किया है? नहीं, फ‍िर क्‍या जिंदगी जिये हो जनाब। चलो आज आपको सैर करा लाते …

Kufr ki Raatein

यूँ तो तमाम किताबें इधर आपकी नज़र से गुज़र रही होंगी। हर किताब अपने में कुछ न कुछ ख़ासियत समेटे होती है। हर किताब में लेखक की वह साँसें गुँथी होती हैं, जिन्हें वह चाहता है, हमेशा जीवित रहें। किताब ‘कुफ़्र की रातें’ भी लेखक फ़ायक़ अतीक किदवई की वह साँसें हैं, जिन्हें हमेशा जीवित रहना चाहिए। फ़ायक़ के लिखने …