12508748_1033239833403010_8048752700053519812_n

कहानी : बंद कमरे का धुँआ – अर्चना ठाकुर (अंक-3)

मैं उसे जानती थी ये तो उसको देखते मेरी स्मृतियों ने तय कर लिया। पर नाम, नाम क्यों नहीं याद आ रहा। वो चेहरा जाना पहचाना तो है। उसके चेहरे के भाव भी कितने जाने पहचाने से है जैसे आज वह क्लान्त, मलिन भाव से मेडिकल कॉलेज के क्लिनिकल विभाग के एक केबिन के बाहर खड़ा था। क्यों? इसका तो …

prtima

अनकहे अ़फसाने – कहानी – अंक 2

प्रतिमा त्रिपाठी गणेशपुरम, इलाहाबाद ईमेल – pratima.pra13@gmail.com   चिलचिलाती धूप में अब और चलने को जी नहीं चाहता था पर दूर तक किसी टैक्सी का निशान नहीं था, जो गुजरी भी वो या तो भरी हुई थी या रुकी नहीं। सोच ही रही थी थोड़ा और अपने को खींच सकूँ तो मेट्रो तक पहुँच सकती हूँ पर धूप राख करने …

11870718_817366001703783_5658832164566366056_n

हैप्पी की शादी (कहानी – सन्देश नायक) अंक-1

सन्देश नायक जन्म तिथि – 01 जुलाई,  1985 शिक्षा – स्नातक (मनोविज्ञान) रूचि – लेखन, अध्ययन, संगीत पता – अयोध्या बस्ती, लहचूरा रोड हरपालपुर, जिला-छतरपुर (म.प्र.) ई-मेल – sandesh.nayak04@gmail.com संपर्क – 8376874779 ब्लॉग – swarn-sandesh.blogspot.com   10 फरवरी को रिंका के छोटे भाई की शादी थी। जब से ये समाचार मिला पंडित जी का दिल बा़ग-बा़ग हो गया। काफी अरसे बाद अपने खास …

997001_899587756829526_2013424245789307940_n

फेयरनेस क्रीम (कहानी – प्रियंका ओम) अंक-1

प्रियंका ओम नाम कॉमन हो सकता है, पर कहानियाँ नहीं। सच लिखती है, बेहिचक लिखती है, बिंदास लिखती है। इनकी कहानियों में समाज का कड़ुवा सच है, तो जिंदगी की फंतासियां भी। रिश्तों की नाजुक डोर है, तो स्वार्थ की गाँठ भी। प्रियंका इंग्लिश लिट्रेचर से ग्रेजुएट हैं और हिंदी से गजब का लगाव है। जन्म जमशेदपुर में हुआ और …

anurag sharma

गरजपाल की चिट्ठी (कहानी – अनुराग शर्मा) अंक – 1

एक बेहतरीन किस्सागो, कवि और ब्लॉगर अनुराग शर्मा की कथाएँ पाठकों को अपनी अंतिम पंक्ति तक बांधे रहने में सक्षम है। उनकी कहानी पढ़ते हुए अक्सर पाठक को निजी संस्मरण की अनुभूति होती है। एक पूर्णतः अप्रत्याशित अंत उनके कथालेखन की विशेषता है। ‘बांधों को तोड़ दो’, ‘वैरागी मन’, ‘प्रवासी मन’, एन एलियन अमंग फ्लेशईटर्स व सीक्रेट डायरी ऑफ एन …