13606956_10209606666826543_7929599553542534339_n

आलेख : हिंदी-ग़ज़ल की अस्मिता का प्रश्न – डॉ. गिरिराज शरण अग्रवाल (अंक – 3)

हिंदी ग़ज़ल की अस्मिता का प्रश्न। यानी हिंदी ग़ज़ल के अस्तित्व का प्रश्न। हिंदी ग़ज़ल की सत्ता का प्रश्न, उसके महत्त्व का प्रश्न। अस्मिता का अर्थ ही है वह भाव या मनोवृत्ति कि मेरी एक पृथक और विशिष्ट सत्ता है। इस प्रश्न पर मन में थोड़ा असमंजस रहा तो सोचा कि क्यों न फिर से अस्मिता के शाब्दिक अर्थों को …

????????????????????????????????????

कविता क्या है? (आलेख – सौरभ पाण्डेय) अंक-1

जन्मतिथि 3 दिसम्बर 1963 जन्म स्थान देवघर, झारखण्ड कृतियाँ इकड़ियाँ जेबी से (काव्य संग्रह) परों को खोलते हुए – १ (संपादन) संपर्क, मो- 9919889911 सौरभ पाण्डेय का मूल पैत्रिक स्थान उत्तर प्रदेश के बलिया जनपद का द्वाबा परिक्षेत्र है तथा परिवार विगत पच्चीस वर्षों से इलाहाबाद में है. आप उन अध्येताओं में से हैं जिनके लिए साहित्य-कर्म मात्र संप्रेषण नहीं, बल्कि …